राष्ट्रीय बागवानी मिशन योजना में आवेदन कैसे करें?

खाद्यान्न फसलों की अपेक्षा बागवानी में किसानों को अधिक आय के साथ ही विभिन्न प्रकार के फायदे है। खाद्यान्न फसलों को उगानें के लिए पर्याप्त भूमि आवश्यकता होती है, जबकि बागवानी का कार्य आप कम भूमि पर आसानी से कर सकते है। बागवानी फसलों की सहयता से छोटे और सीमांत किसान अपनी कम भूमि पर भी अधिक लाभ प्राप्त कर सकते है। किसानों की आय में वृद्धि करनें के उद्देश्य से भारत सरकार द्वारा वर्ष 2005 से 2006 में राष्ट्रीय बागवानी मिशन योजना ( National Horticulture Mission Scheme ) की शुरुआत की गयी थी| इस स्कीम के माध्यम से किसानों को बागवानी फसलों के लिए सरकार द्वारा वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है। इस योजना के तहत किसानों को दी जाने वाली वित्तीय सहायता में राज्य सरकार का योगदान 35 से 50 प्रतिशत और शेष राशि केंद्र सरकार द्वारा प्रदान की जाती है | राष्ट्रीय बागवानी मिशन योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://nhb.gov.in/ है| 

हमने राष्ट्रीय बागवानी मिशन योजना की सारी जानकारी, योजना से संबंधित सरकारी वेबसाइट https://nhb.gov.in/ से निकाली है। जानकारी में किसी भी प्रकार का बदलाव होने पर आप योजना से संबंधित वेबसाइट पर जाएं। इस ब्लॉग में दी गयी किसी भी जानकारी के लिए शबला सेवा किसी भी तरह से जिम्मेदार नहीं है।

राष्ट्रीय बागवानी मिशन योजना का मुख्य उद्देश्य ( The Main Objectives of the National Horticulture Mission Scheme )

सरकार द्वारा इस मिशन को शुरू करनें का मुख्य उद्देश्य बागवानी खेती को बढ़ावा देने के साथ ही उसका चौमुखी विकास करना है। इसके साथ ही बागवानी करनें वाले किसानों को फसल से सम्बंधित उचित जानकारी प्रदान कर उनकी आय को बढ़ाना है। दरअसल सरकार बागवानी खेती करनें वाले कृषकों की संख्या में बढ़ोंत्तरी कर बागवानी फसलों के उत्पादन में वृद्धि करना चाहती है। इस मिशन के शुरूआत होने से फलों और सब्जियों के निर्यात के काफी वृद्धि हुई है, जिससे किसानों और देश की की अर्थव्यवस्था में काफी सुधार हुआ है।

राष्ट्रीय बागवानी मिशन योजना से लाभ ( Benefits of National Horticulture Mission Scheme )

१. छोटे और सीमान्त किसान कम भूमि में अधिक उत्पादन का लाभ |
२. खाद्यान्न फसलों की अपेक्षा बागवानी फसलों में सिंचाई की आवश्यकता कम होती है |
३. बागवानी के अंतर्गत उगायी जानें वाली फसलों की मांग बाजार में वर्ष भर रहती है, जिससे किसानों को विक्रय में किसी प्रकार की समस्या का सामना नहीं करना पड़ता है |
४. एक बार फसल उगानें के बाद किसान कई वर्षों तक फसलों का उत्पादन ले सकते हैं |
५. इस योजना की मदद से देशभर में फल-फूल और सब्जी की खेती में बढ़ोतरी देखने को मिली है।
६. किसानो को केंद्र और राज्य सरकार से आर्थिक सहायता मिलेगी।

राष्ट्रीय बागवानी मिशन योजना के लिए पात्रता ( Eligibility for National Horticulture Mission Scheme )

१. इस मिशन का हिस्सा बनने के लिए किसान के पास खेती योग्य जमीन होनी चाहिए।
२. इस मिशन का हिस्सा बनने के बाद किसान अपनी जमीन पर बागवानी करेगा।
३. इस मिशन का हिस्सा बनने वाले किसान की उम्र कम से कम 18 वर्ष होनी चाहिए।

राष्ट्रीय बागवानी मिशन योजना में आवेदन करने के लिए आवश्यक दस्तावेज ( Documents Required to Apply in National Horticulture Mission Scheme )

आवेदक के पास मौजूद ये दस्तावेज आवश्यक हैं।

१. पैन कार्ड ( PAN Card )
२. खसरे की नकल ( Measles Mimic )
३. बैंक पासबुक ( Bank Passbook )
४. आधार कार्ड ( Aadhaar Card )
५. पासपोर्ट साइज फोटो ( Passport Size Photo )
६. मोबाइल नंबर आधार कार्ड से लिंक हो ( Mobile Number should be linked to Aadhaar Card )

राष्ट्रीय बागवानी मिशन योजना में आवेदन कैसे करें ( How to apply in National Horticulture Mission Scheme )

राष्ट्रीय बागवानी मिशन योजना में आवदेन का माध्यम ऑनलाइन ही है। इसके लिए आप कॉमन सर्विस सेंटर का उपयोग कर सकते हैं या फिर स्वयं ऑनलाइन पंजीकरण भी कर सकते हैं। स्वयं ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन सबसे पहले आपको राष्ट्रीय बागवानी मिशन योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://nhb.gov.in/ पर जाना होगा। वेबसाइट के होमपेज पर आपको “Apply now” के विकल्प पर क्लिक करना है। अपनी ईमेल से लॉगिन करके मोबाइल नंबर पर ओटीपी से सत्यापित करके सारे जरुरी दस्तावेज सबमिट कर दें।

आप शबला सेवा की मदद कैसे ले सकते हैं? ( How Can You Take Help of Shabla Seva? )

  1. आप हमारी विशेषज्ञ टीम से खेती के बारे में सभी प्रकार की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
  2. हमारे संस्थान के माध्यम से आप बोने के लिए उन्नत किस्म के बीज प्राप्त कर सकते हैं।
  3. आप हमसे टेलीफोन या सोशल मीडिया के माध्यम से भी जानकारी और सुझाव ले सकते हैं।
  4. फसल को कब और कितनी मात्रा में खाद, पानी देना चाहिए, इसकी भी जानकारी ले सकते हैं।
  5. बुवाई से लेकर कटाई तक, किसी भी प्रकार की समस्या उत्पन्न होने पर आप हमारी मदद ले सकते हैं।
  6. फसल कटने के बाद आप फसल को बाजार में बेचने में भी हमारी मदद ले सकते हैं।

Become our Distributor Today!

Get engaged as our distributor of our high quality natural agricultural products & increase your profits.

Translate »