प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना में आवेदन कैसे करें?

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना ( Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana ) भारत सरकार द्वारा शुरू किया गयी है। वर्ष 2020-2021 से वर्ष 2024-2025 की अवधि के दौरान रुपये का अनुमानित निवेश 20,050 करोड़ रुपये का होगा जिसमें से 12340 करोड़ रुपये समुद्री, अंतर्देशीय मत्स्य पालन और जलीय कृषि में लाभार्थी उन्मुख गतिविधियों के लिए प्रस्तावित है और लगभग 7710 करोड़ रूपये मत्स्य पालन बुनियादी ढांचे के लिए हैं। इस योजना के तहत मछली विक्रेताओं को आइस बॉक्स वाली साइकिलें उपलब्ध कराई जाएंगी, जिससे उन्हें मछली बेचने में आसानी होगी। प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना की आधिकारिक वेबसाइट pmmsy.dof.gov.in है।

हमने प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना की सारी जानकारी, योजना से संबंधित सरकारी वेबसाइट pmmsy.dof.gov.in से निकाली है। जानकारी में किसी भी प्रकार का बदलाव होने पर आप योजना से संबंधित वेबसाइट पर जाएं। इस ब्लॉग में दी गयी किसी भी जानकारी के लिए शबला सेवा किसी भी तरह से जिम्मेदार नहीं है।

प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना के मुख्य घटक ( Main components of Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana )

1. जलीय स्वास्थ्य प्रबंधन ( Aquatic Health Management )
2. सजावटी मछली पकड़ना ( Ornamental Fishing )
3. मछुआरा कल्याण ( Fishermen Welfare )
4. ठंडे पानी में मछली पकड़ना ( Cold Water Fishing )
5. समुद्री शैवाल की खेती ( Seaweed Farming )
6. खारे पानी में मछली पकड़ना ( Saltwater Fishing )
7. अंतर्देशीय मछली पकड़ना ( Inland Fishing )
8. बुनियादी ढांचा और फसल कटाई के बाद प्रबंधन ( Infrastructure and Post Harvest Management )
9. अन्य महत्वपूर्ण गतिविधियाँ ( Other Important Activities )

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना का उद्देश्य ( Objective of Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana )

भारत सरकार द्वारा शुरू की जाने वाली प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना मत्स्य पालन क्षेत्र में शुरू की जाने वाली सबसे बड़ी योजना है। सरकार ने यह योजना इसलिए शुरू की जिससे मछली पालकों को अच्छा रोजगार मिल सके। मछली पालकों को इसकी गुणवत्ता का विशेष ख्याल रखना होगा। इसके साथ ही मत्स्य पालन करने वालों को जिला स्तर पर विभाग की ओर से निःशुल्क प्रशिक्षण दिया जायेगा। देश में कई ऐसे राज्य हैं जहां मछली की मांग सबसे ज्यादा है ऐसे में अगर इस क्षेत्र को अच्छे से विकसित किया जाए तो इससे ज्यादा से ज्यादा मुनाफा कमाया जा सकता है।

प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना के लाभ ( Benefits of Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana )

अनुमान है कि प्रधानमंत्री मत्स्य पालन योजना से 1,600,000 लाभार्थी प्रभावित हुए हैं।
1. योजना का मुख्य लाभ यह है कि मछुआरों और मछली पालकों की आय में वृद्धि होगी।
2. इस योजना के अंतर्गत भूमि एवं जल के विकास, ऊंचाई, चौड़ीकरण एवं लाभकारी उपयोग द्वारा मछली उत्पादन में सुधार किया जायेगा।
3. इस योजना के तहत बागवानी वस्तुओं की भारी बर्बादी को कम किया जाएगा।
4. उद्यमों को बेहतर लागत और दोगुनी मजदूरी में मदद मिलेगी.
5. वर्ष 2024 तक मछली उत्पादन को लगभग 220 लाख मीट्रिक टन तक बढ़ाने में मदद मिलेगी।
6. फसल हानि को 25% से लगभग 10% तक कम किया जा सकता है।
7. इससे घरेलू मछली की प्रति व्यक्ति खपत, जो वर्तमान में लगभग 6 किलोग्राम है, को लगभग 12 किलोग्राम तक बढ़ाया जा सकता है।
8. मत्स्य पालन से संबंधित जय योजना से वर्तमान राष्ट्रीय औसत उत्पादन 3 टन को बढ़ाकर लगभग 5 टन प्रति हेक्टेयर किया जा सकता है।

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के अंतर्गत लाभार्थी ( Beneficiaries Under Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana )

इस योजना के लाभार्थी मुख्य रूप से मछुआरे किसान हैं, लेकिन मछुआरों के अलावा मछुआरे किसान, मत्स्य विकास निगम, मत्स्य संघ, उद्यमी और निजी फर्म, मत्स्य सहकारी समितियाँ और मत्स्य उद्योग से संबंधित व्यक्ति और सभी तरह के विभाग भी इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना में अब तक कवर किए गए राज्य/केंद्र शासित प्रदेश 34 हैं। इस योजना से संबंधित विभाग मत्स्य पालन विभाग, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय, भारत सरकार आदि हैं। किसान क्रेडिट कार्ड को भी प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना का हिस्सा बनाया जाएगा जिसके माध्यम से कम ब्याज दरों पर ऋण प्राप्त किया जा सकता है।

प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना के लिए पात्रता ( Eligibility for Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana )

1. प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना के लिए आपका भारतीय होना अनिवार्य है। इसमें उन्हें ही पात्रता मिलेगी।
2. इस योजना के लिए देश के विभिन्न मछुआरे और किसान आवेदन कर सकते हैं।
3. प्राकृतिक आपदा से पीड़ित लोगों को भी इस योजना में आवेदन करने का मौका दिया जाएगा।
4. प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना में आपको जाति वर्ग के अनुसार ऋण राशि दी जाएगी।
5. इस योजना के लिए आपका मछली पालक होना अनिवार्य है तभी आप आवेदन कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री मत्स्य पालन योजना के दस्तावेज ( Documents of Pradhan Mantri Fisheries Scheme )

आवेदक के पास मौजूद ये दस्तावेज आवश्यक हैं।
1. आधार कार्ड ( Aadhaar Card )
2. निवास प्रमाण पत्र ( Residence Certificate )
3. बैंक पासबुक की प्रति ( Copy of Bank Passbook )
4. जाति प्रमाण पत्र ( Caste Certificate )
5. पासपोर्ट साइज फोटो ( Passport Size photo )

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना में आवेदन कैसे करें ( How to Apply in Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana )

प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना की आधिकारिक वेबसाइट pmmsy.dof.gov.in है।
1. वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
2. इस होम पेज पर आपको अप्लाई बटन पर क्लिक करना होगा।
3. क्लिक करने के बाद आपके सामने आवेदन पत्र खुल जाएगा।
4. इस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे नाम, जन्मतिथि, लिंग आदि दर्ज करें।
5. पूरी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको अपने सभी दस्तावेज संलग्न करने होंगे।
6. दस्तावेज संलग्न करने के बाद आपको सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा फिर फॉर्म सबमिट कर दें।

आप शबला सेवा की मदद कैसे ले सकते हैं? ( How Can You Take Help of Shabla Seva? )

  1. आप हमारी विशेषज्ञ टीम से खेती के बारे में सभी प्रकार की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
  2. हमारे संस्थान के माध्यम से आप बोने के लिए उन्नत किस्म के बीज प्राप्त कर सकते हैं।
  3. आप हमसे टेलीफोन या सोशल मीडिया के माध्यम से भी जानकारी और सुझाव ले सकते हैं।
  4. फसल को कब और कितनी मात्रा में खाद, पानी देना चाहिए, इसकी भी जानकारी ले सकते हैं।
  5. बुवाई से लेकर कटाई तक, किसी भी प्रकार की समस्या उत्पन्न होने पर आप हमारी मदद ले सकते हैं।
  6. फसल कटने के बाद आप फसल को बाजार में बेचने में भी हमारी मदद ले सकते हैं।

संपर्क

अधिक जानकारी के लिए हमसे संपर्क करें +91 9335045599 ( शबला सेवा )

आप नीचे व्हाट्सएप्प (WhatsApp) पर क्लिक करके हमे अपना सन्देश भेज सकते है।

Become our Distributor Today!

Get engaged as our distributor of our high quality natural agricultural products & increase your profits.

Translate »