सफ़ेद चन्दन और औषधीय पौधों की खेती

सफ़ेद चन्दन और औषधीय पौधों की खेती तकनीक और जानकारी बढ़ने के साथ अब किसान भी पारम्परिक खेती को छोड़ कर आधुनिक खेती और अनाज के साथ ही सफ़ेद चन्दन , औषधीय पौधों और जड़ी-बुंटियों की खेती कर रहे है। इससे न केवल उनके खेतों की मिट्टी की उपजता बढ़ रही है बल्कि अच्छी-खासी आमदनी भी...

किसानों के लिये मिसाल बने औषधीय पौधों की खेती करने वाले संस्था के संस्थापक डॉ अविनाश कुमार

किसानों के लिये मिसाल बने औषधीय पौधों की खेती करने वाले संस्था के संस्थापक डॉ अविनाश कुमार उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जनपद के पादरी बाजार निवासी अविनाश कुमार के जीवन की कहानी थोड़ी अलग है। वे अपने भाई-बहनों में सबसे बड़े हैं। पिताजी के सरकारी नौकरी में होने के कारण घर का...
तुलसी आंवला कि खेती ने बढ़ाया संस्था का हौसला

तुलसी आंवला कि खेती ने बढ़ाया संस्था का हौसला

तुलसी आंवला कि खेती ने बढ़ाया संस्था का हौसला बिजनेस करने का पहला उसूल है कुछ नया करने की चाह रखना। गोरखपुर के अविनाश कुमार ने दो साल पहले इस बात को समझ लिया था। तभी तो उन्होंने पारंपरिक खेती को छोड़कर जड़ी-बूटी एवं दवाई के रूप में इस्तेमाल होने वाले पौधों की खेती की...
Translate »

Pin It on Pinterest